Education Trendy

Republic Day 26 January 2021 Speech and Essay in English, Hindi and Gujarati

26 January Republic Day 2021 Celebration Speech in Hindi Gujarati All Language
Written by Chetan Darji
Rate this post

India is soon going to celebrate its 72nd Republic Day on 26 January 2021, to mark the first revolution against the British regime. On this day India Constitution was adopted in 1950 after attending the independence on 15 August 1947.

Republic-Day-26-January-2021 in all lang

In India, Republic Day is not less than a festival, the whole country regardless of caste, creed, religion beams with joy. On this day, the entire country is laced in tri-colours to convey that India is a nation where ‘Unity in Diversity’ is celebrated.

On Republic Day, speeches are a common thing as it can influence people’s mindset. So here we are with some ideas that teachers and students can add while making their speech this Republic Day.

We Give the Speech & Essay Ideas for Republic Day 2021

Republic Day 26 January 2021 Speech in English

1. Good Morning,

All of us are gathered here to celebrate the 72nd Republic Day of our country today. This event is a very wonderful and praising event for each one of us. In this eventful day, we should pray to god to enhance our country and welcome everyone of us. We observe Republic day on 26 January because the Constitution of India came to force on this day in 1950.

India is a very democratic and just nation where each citizen is allowed to choose the leader who deserves to lead the nation. Although there have been many improvements till now, few deteriorations have also come with it, such as unemployment, lack of literates, pollution, poverty, and so on. All we can do is promise today to solve this type of issues together as people of this nation to make this country one of the best nations in the world.

2. Republic Day reminds us of our struggle, how the Indian National Congress (INC) with the help of youths achieved its demand of Purn Swaraj. The struggle for freedom was based on some high principles and ideas, such as – non-violence, cooperation, non-discrimination, etc. For this reason, Republic Day is celebrated by all the Indians with great zeal and grandeur.

It also reminds us of the sacred values enshrined in the Constitution of India, it is a day of national pride. Display of grand military on the Republic Day parade reminds us that the security of our territorial sovereignty is the outcome of many sacrifices.

You Must Know Topics to prepare Speech & Essay

1. Republic Day History, Significance and Importance

2. History of Tricolor

3. It took two years and 11 months to form the Constitution of India

4. The first parade was held on Republic Day in 1955

5. Indian constitution is the world’s largest written constitution

Example for Best Speech for 26 January Republic Day 2021

Good morning to all. My name is ________ I am studying in class _____ As we all know that we have gathered here on the very special occasion of our nation called as Republic day of India. I would like to give a speech on republic day in front of you.

I am excited to say something about our country on this big occasion of Republic day. Republic day is celebrated on 26th January from 1950. Today we all are here to celebrate 72nd  republic day of our nation. India got independence since the 15th of August 1947, which is celebrated as independence day. And on 26th January 1950, the constitution of India came into force, so we celebrate this day as republic day of India.

Republic means the supreme power of the people living in the country and the only public has the right to elect their representatives as a political leader to lead the country in the right direction. So, India is a republic country where we people elect our leaders as a president, prime minister, etc. Our great Indian freedom fighters have struggled a lot to get our freedom back. They have struggled so that their future generations may live without struggle and led the country ahead.

# Example 2

10 Lines on 26 January 2021

Whenever you go to a stage or stage, always greet, senior people, the chief guests and, your friends…

Say like this … My greetings to all people …. I am a ……….. name ….., a student of class ……

  1. Today all of us have gathered here to celebrate the day of unity of India i.e. Republic Day. Today we are celebrating the 72nd Republic Day of our nation.
  2. The Constitution of India was passed in the Constituent Assembly on 26 November 1949, but on 26 January 1950, the Constitution of India was implemented for all Indians.
  3. Since then, we celebrate Constitution Day on 26 November and Republic Day on 26 January every year with great joy.
  4. Baba Saheb Ambedkar, who is called the Constituent Legislator of India, has made the greatest contribution in the process of making the Constitution of India.
  5. The Constitution of India is the largest written constitution in the world. It took 2 years, 11 months and 18 days to write the Indian Constitution.
  6. India got independence from British rule on 15 August 1947, but when the Constitution was implemented in India, India became a republican country.
  7. Mahatma Gandhi, Sardar Vallabhbhai Patel, Bhagat Singh, and other freedom fighters worked hard to bring freedom to India.
  8. India now has its own constitution. The Constitution basically means the rule of law for all citizens. Which we all should follow.
  9. On Republic Day, the PM of India hoists the flag at Rajpath. The 26 January parade is organized at Rajpath every year.
  10. The Indian Army shows its power in the 26 January parade. Tableau from all states participates in this event. And finally, sing the national anthem too.

Let us all stand up to our national anthem…

Republic Day 2021 Speech in Hindi

Republic day 2021 speech in hindi

गणतंत्र दिवस भाषण 2021 : – 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का सविधान लागू किया गया था। तब से प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत में हर सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में बड़े उत्साह के साथ गणतंत्र दिवस को सेलेब्रेट किया जाता है। भारत के इतिहास में Republic Day का एक खास महत्व है क्योकिं भारतीय स्वतंत्रता से जुड़ी सभी संघर्षों के बारे में गणतंत्र दिवस में बताया जाता है।

गणतंत्र दिवस के उपलक्ष में स्कूलों और कॉलेजों में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से 26 जनवरी पर भाषण संबंधित सभी जानकारी प्रदान करेंगे। अगर आप भी रिपब्लिक डे के दिन भाषण प्रतियोगिताओं में भाग लेते है तो आप हमारे इस लेख के माध्यम से दी गयी जानकारी के अनुसार गणतंत्र दिवसभाषण को प्राप्त कर सकते है।

आदरणीय प्रधानाचार्य जी मेरे सभी शिक्षक गण और मेरे प्यारे सहपाठियों जैसे की आप सभी को विदित होगा की ,इस वर्ष भारत का 72वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। आज मैं आपको रिपब्लिक डे से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपके साथ साझा करना चाहती हूँ।


26 जनवरी सन्न 1950 को देश का संविधान लागू किया गया था उसी उपलक्ष में भारत देश के प्रत्येक नागरिक के द्वारा गणतंत्र दिवस को बड़े उत्साह और उमंग के साथ मनाया जाता है,गणतंत्र का अर्थ है जनता के द्वारा जनता के लिए शासन 26 जनवरी 1950 को हमारे देश भारत को गणतंत्र देश के रूप में घोषित किया गया था। सभी भारतीय नागरिको के द्वारा यह दिवस बिना भेद-भाव के मनाया जाता है ,हम सभी देश वासियों को भारत का नागरिक होने का गर्व है।

समाज में, हमारी अलग जाति, धर्म या कई अन्य चीजें हैं जो हमें अलग करती हैं लेकिन इसकी एक व्यापक तस्वीर यह है की , हम सभी भारतीय हैं सभी भारतीयों के द्वारा एकजुट के रूप में गणतंत्र दिवस को मनाया जाता है। हमारे देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों के द्वारा जो अपने मेहनत और संघर्ष की आहुति दी गयी थी उसके कारण ही भारत को पूर्ण स्वराज दिलाया गया। और इसी दिन हम पूर्ण रूप से स्वाधीन हो गए थे। उन सभी महान स्वतंत्रता सेनानियों के कारण ही आज सभी भारतीय नागरिक अपने देश में स्वतंत्रता के साथ जी रहें है।

हर तरफ देखो लग रहा
”जय हिन्द” का नारा है।
लिए तिरंगा हाथ में देश
झूम रहा आज सारा है
आओ की आया है ”राष्ट्र पर्व”
गणतंत्र हमारा है
नमन ”माँ भारती” तुझे
दिया राष्ट्र पर्व प्यारा है।
जय हिन्द

26 जनवरी 1950 को लार्ड माउन्ट बेटन (गवर्नर जरनल ) के स्थान पर डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद जी को भारत के प्रथम राष्ट्रपति के रूप में चुना गया था। भारत वर्ष में यह दिवस बड़ी उत्साह और धूमधाम के साथ मनाया जाता है हर साल भारत की राजधानी दिल्ली में भारत के उपराष्ट्रपति के जी के द्वारा राजकीय सवारी निकाली जाती है। और भारतीय सेना जल थल और वायु सेना की राष्ट्पति जी के द्वारा सलामी ली जाती है।

भारत के अनेक प्रांतो के लोकनिर्त्य और वेषभूषाओं और संस्कृति का प्रदर्शन किया जाता है। यह देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए लड़े युद्ध वा स्वतंत्रता आंदोलन में देश के लिए बलिदान देने वाले शहीदों के बलिदान का स्मारक है। कई वर्षों तक भारत के स्वतंत्रता सेनानियों के द्वारा ब्रिटिश शासन का सामना किया गया। जिसके फलस्वरूप देश को उनके चंगुल से आजाद कराया गया उनके इस बलिदान को भुलाया नहीं जा सकता है।

सबके अधिकारों का रक्षक
अपना ये गणतंत्र पर्व है।
लोकतंत्र ही मंत्र हमारा
हम सबको ही इस पर गर्व है।

गणतंत्र दिवस को एक विशेष पर्व के रूप में मनाने का मुख्य उद्देश्य है यह भारतीय संविधान का एक स्थापना दिवस है। इतिहास में भारतीय गणतंत्र दिवस का काफी रोचक है। इस उपलक्ष्य को गणतंत्र दिवस को एक सम्मान प्रदान करने के लिए प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी के दिन विशेष प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

यह भारतीय नागरिकों के जीवन का एक महत्वपूर्ण दिन है जो सभी को संविधान होने का महत्व समझाता है। भारत देश को एक लोकतान्त्रिक और गणतंत्र राष्ट्र के रूप में जाना जाता है भारत में जनता के मत अनुसार ही एक शासक को चुना जाता है। जिसके फलस्वरूप चुने गए शासक को सत्ता की कुर्सी पर बिठाया जाता है। अगर जनता चाहे तो वह सत्ता पे बिठाये नागरिक को उस पद से हटा भी सकते है इसी के आधार पर गणतांत्रिक देश में जनता का फैसला तर्कशील होता है।

Republic Day 2021 Speech in Hindi For School Students

स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में 26 जनवरी का अपना विशेष महत्व है। पंडित जवाहर लाल नेहरू की के द्वारा सन्न 1930 में रावी नदी के तट पर कांग्रेस के लाहौर अधिवेशन में पूर्ण स्वतंत्रता की घोषणा की गयी। जवाहर लाल नेहरू जी के द्वारा इस दिन यह प्रतिज्ञा ली गयी थी की जब तक भारत के वासियो को स्वतंत्रता की प्राप्ति नहीं हो जाती तब तक यह स्वतंत्रता आंदोलन को जारी रखा जायेगा। इन सभी संघर्षों के साथ स्वतंत्रता की प्राप्ति के लिए कई महान वीरों को अपना बलिदान भी देना पड़ा।

जिनके बलिदान को आज भी भारत के नागरिको के द्वारा भुला नहीं गया है। धर्मनिरपेक्ष ,समाजवादी और लोकतान्त्रिक गणराज्य भारत का संप्रभु 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। इस उपलक्ष के अवसर पर प्रत्येक वर्ष राष्ट्रपति जी के द्वारा दिल्ली के राजपथ पर राष्ट्र ध्वजारोहण किया जाता है। और इसके बाद राष्ट्रगान को शुरू किया जाता है।


इसी प्रकार 26 जनवरी 1950 को देश में अपना संविधान ,अपनी सरकार ,अपना राष्ट्रपति और राष्ट्रीय ध्वज हो जाने पर भारत वर्ष विश्व का सबसे बड़ा गणतंत्र राष्ट्र बन गया।

”वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये,
रिश्ता ऐसा न कोई हमारा तोड़ पाये ,
दिल एक है एक है जान हमारी,
हिदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है

अब मैं अपने शब्दों को यही पर विराम देना चाहती हूँ और सभी का भाषण सुनने के लिए तह दिल से धन्यवाद करना चाहती हूँ। जय हिन्द जय भारत

Some Questions and Fact About the Republic Day 2021

Republic Day को हिंदी में क्या बोलते हैं ?

Republic Day को हिंदी में गणतंत्र दिवस बोलते हैं।26 जनवरी को हमारे देश का कौन सा राष्ट्रीय त्यौहार है ?

26 जनवरी को भारत में गणतंत्र दिवस को राष्ट्रीय त्यौहार के रूप में मनाया जाता है।Republic Day का अर्थ ?

Republic Day का अर्थ गणतंत्र दिवस होता है।26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में क्यों मनाते हैं ?

क्योकि 26 जनवरी 1950 को हमारे देश भारत को गणतंत्र देश के रूप में घोषित किया गया था, इसलिए 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।गणतंत्र दिवस 2021 के मुख्य अतिथि कौन हैं

गणतंत्र दिवस 2021 के मुख्य अतिथि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन हैं। (Prime Minister Boris Johnson of United Kingdom )26 जनवरी 2021 को कौन सा गणतंत्र दिवस है।

26 जनवरी को 72 वां गणतंत्र दिवस है।

Republic Day 2021 Speech in Gujarati For School Students

26 January 2021 Speech in Gujarati 26

“આપ સૌને શુભ સવાર. મારું નામ ચેતનકુમાર છે. આપણે બધા જાણીએ છીએ કે આપણે બધાં આજે એક વિશેષ પ્રસંગે અહીં ભેગા થયા છે. આજના દિવસને આપણે ભારતના પ્રજાસત્તાક દિવસ તરીકે ઓળખીએ છીએ. ભારતીય પ્રજાસત્તાક દિનનો ઇતિહાસ ખૂબ રસપ્રદ છે, જેની શરૂઆત 26 જાન્યુઆરી 1950 ના રોજ થઈ હતી.

આપણા દેશમાં અંગ્રેજ સરકારના કાયદાને દૂર કરીને ભારતના બંધારણનો અમલ થયો હોવાથી, બંધારણ અને આપણા દેશના પ્રજાસત્તાકનું સન્માન કરવા માટે દર વર્ષે 26 જાન્યુઆરીએ પ્રજાસત્તાક દિવસનો કાર્યક્રમ ઉજવવામાં આવે છે.આપણે દેશના તમામ રાજ્યો, ગામડાઓ અને શહેરો વિશે સમાન વિચારવું જોઈએ જેથી કોઈ જાતિ, ધર્મ, ગરીબ, શ્રીમંત, ઉચ્ચ વર્ગ, મધ્યમ વર્ગ, નિમ્ન વર્ગ, નિરક્ષરતા વગેરેને ધ્યાનમાં લીધા વિના ભારત કોઈ પણ ભેદભાવ વિના એક સુવિકસિત દેશ બની શકે.

આપણા નેતાઓ દેશની તરફેણમાં પ્રભુત્વ ધરાવતા હોવા જોઈએ, જેથી દરેક અધિકારી તમામ નિયમો અને નિયમનો યોગ્ય રીતે પાલન કરી શકે. આ દેશને ભ્રષ્ટાચાર મુક્ત દેશ બનાવવા માટે,તમામ અધિકારીઓએ ભારતીય નિયમો અને કાયદાઓનું પાલન કરવું જોઈએ. 

 આપણું ભાગ્ય છે કે આપણને કપડાં, રહેઠાણ,ખોરાક વગેરે સારી રીતે મળે છે. આપણે પ્રેમ સાથે સાથે કેવી રીતે જીવવું જોઈએ તે શીખવાની જરૂર છે. અંતે, હું એટલું જ કહેવા માંગુ છું કે ચાલો આપણે સર્વે ભેગા મળીને એવા કાર્યો કરીએ કે જેથી ભારતનો ધ્વજ હંમેશા ઉંચો રહે.”                                                                 વંદે માતરમ 

                                               પ્રજાસત્તાક દિનની હાર્દિક શુભકામના

બીજું ઉદાહરણ :

26 January 2021 Speech in Gujarati - 1

I Hope You Like the Article of the Republic Day – Importance 26 January 2021 Speech and Essay in English, Hindi and Gujarati

Do Share and Comment. Friends

About the author

Chetan Darji

Hi, My name is Chetan Darji , and I am the owner and Founder of this website. I am 24 years old, Gujarat-based (India) blogger.
I started this blog on 20th January 2019.

Leave a Comment